BSP एग्जीक्यूटिव की मीटिंग आज, लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मायावती PM उम्मीदवार

लोकसभा चुनाव 2019
लोकसभा चुनाव 2019

राहुल गाँधी शायद इस बात को समझ गए थे की लोकसभा चुनाव 2019 के बाद अगर देश में मिली जुलू खिचड़ी सरकार बनी तो वो देश के प्रधानमंत्री नहीं बनाये जायेंगे, लोग उन्हें प्रधानमंत्री नहीं बन्ने देंगे, इसलिए राहुल गाँधी ने कर्णाटक में आगे बढ़ते हुए कहा था की अगर खिचड़ी सरकार बनी तो मैं PM बनूँगा

पर अब इस महागटबंधन की एक बड़ी पार्टी बहुजन समाज पार्टी ने साफ़ कर दिया है की जी उनकी नेता ही प्रधानमंत्री की उम्मीदवार होंगी, आज BSP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आयोजित की गयी है

और इस बैठक में 2 चीजों पर चर्चा होगी, पहली तो ये की मायावती को BSP अपना PM पद का उम्मीदवार घोषित करेगी, दूसरी ये की मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान में जो विधानसभा के चुनाव है उसमे कांग्रेस के साथ किस प्रकार गठबंधन किया जाये उसपर चर्चा होगी

एक वरिष्ट बसपा नेता ने कहा है की मायावती को PM पद का उम्मीदवार घोषित किया जायेगा, साफ़ है की राहुल गाँधी की उम्मीदवारी को बसपा ने तो खारिज कर दिया

बसपा नेता का कहना है की मायावती देश की सबसे बड़ी दलित नेता है और पुरे देश में उनका जनाधार है और सब चाहते है की वो प्रधानमंत्री बने, और इसी कारण कार्यकारिणी की बैठक में मायावती को PM उम्मीदवार घोषित किया जायेगा

अब खिचड़ी सरकार तो बाद की बात है, पर जो महागठबंधन की बात चल रही थी उसमे 1 पार्टी ने तो राहुल गाँधी को खारिज कर दिया, अभी और भी बड़े बड़े काफी सारे नेता है और खासकर अखिलेश यादव, अब देखना ये है की वो मायावती से खुद को कैसे पीछे रख पाते है

इसके अलावा ममता बनर्जी भी है, चंद्रबाबू नायडू भी हैं, और काफी सारे नेता है, और सभी अपनी अपनी पार्टियों के मुखिया है, ऐसे में महा गठबंधन बन्ने से पहले सभी आपस में ही लड़ जायें तो कोई आश्चर्य नहीं होना चाहिए, क्यूंकि ये महागठबंधन कोई देश की भलाई के लिए थोड़ी किया जा रहा है ये तो अपने अपने राजनितिक लाभ के लिए किया जा रहा है, और हर शख्स चाहता है की सबसे बड़ा लाभ उसे ही हो