लोकतंत्र की हत्या तो आज़ादी के समय ही कर दी गयी थी जब पटेल की जगह नेहरु PM बनाये गए थे : सुधीर चौधरी

कर्णाटक में बीजेपी ने सरकार बना ली है, और कांग्रेस अब पुरे देश में ये कहकर घूम रही है की बीजेपी ने लोकतंत्र की हत्या कर दी, वैसे आपको बता दें की कर्णाटक की जनता ने कांग्रेस को सत्ता से बाहर करने के मकसद से बीजेपी और जेडीएस को वोट दिया था, पर कांग्रेस जेडीएस के साथ मिलकर पिछले दरवाजे से फिर सत्ता पर काबिज होना चाहती थी

आज कांग्रेस लोकतंत्र की हत्या की बात को जोरशोर से उठा रही है, आज अपने विशेष कार्यक्रम के दौरान जी न्यूज़ के संपादक सुधीर चौधरी ने कहा की कांग्रेस लोकतंत्र की हत्या की बात किस मुह से कर रही है ये समझना मुश्किल है

सुधीर चौधरी ने कहा की आज़ादी के समय ही लोकतंत्र की हत्या की गयी थी जब 12 वोट पाने वाले सरदार पटेल की जगह 1 वोट पाने वाले जवाहर लाल नेहरु को मोहनदास गाँधी ने प्रधानमंत्री बना दिया था

सुधीर चौधरी ने ये भी कहा की लोकतंत्र की हत्या तो इंदिरा गाँधी ने की थी जब उन्होंने देश के संविधान की धज्जियाँ उड़ाते हुए देश में लोकतंत्र को ख़त्म कर आपातकाल लगा दिया था

सुधीर चौधरी ने ये भी बताया की कांग्रेस के अध्यक्ष बनाये जाने के लिए देश की 15 में से 12 प्रदेश कमिटियों ने सरदार पटेल को वोट दिया था, नेहरु को 1 भी प्रदेश कमिटी ने वोट नहीं दिया था, पर कृपलानी ने अपना नाम हटाकर नेहरु का नाम आगे कर दिया, और मोहनदास गाँधी ने 12 वोट पाने वाले पटेल की जगह 1 वोट पाने वाले नेहरु को प्रधानमंत्री बना दिया