आम मुस्लिमो के बच्चों को पत्थरबाज व मदरसाछाप बनाने वाला अपनी बेटी को डीपीएस में पढाता है

पत्थरबाज
पत्थरबाज

आप ऊपर की तस्वीर में जिस लड़की को देख रहे है इसका नाम है शमा शब्बीर, ये कश्मीरी आतंकवादी शब्बीर शाह की बेटी है, वही शब्बीर शाह जिसे मीडिया अलगाववादी नेता बताती है

कल कक्षा 12 के सीबीएसई के नतीजे आये, और शब्बीर शाह की बेटी ने जम्मू कश्मीर में टॉप किया, इसे 97% से ज्यादा नंबर मिले और पुरे जम्मू कश्मीर में शमा शब्बीर ने टॉप किया

ये श्रीनगर के दिल्ली पब्लिक स्कुल डीपीएस में पढ़ती थी, इसका अब्बू तिहाड़ जेल में बंद है और केस है आतंकियो की फंडिंग का

ये कश्मीरी आतंकी की बेटी है जो बढ़िया स्कुल में पढ़ती थी और इसने टॉप किया, इसे हम बधाई देते है

पर हम यहाँ ये कहना चाहते है की इसका अब्बू जिसे मीडिया अलगाववादी नेता बताती है, वो अपनी बेटी को तो बढ़िया स्कुल में पढाता है, पर आम मुसलमानों के बच्चों को पत्थरबाज बनाता है

वो अपनी बेटी को डीपीएस में पढाता है पर आम मुसलमानों के बच्चों को मदरसा में भेजना चाहता है, इन आतंकियों ने कश्मीर में कई स्कूलों को भी आग लगाया है जहाँ आम मुस्लिमो के बच्चे पढ़ते थे

अब शब्बीर शाह की बेटी टॉप करने के बाद और उच्च शिक्षा लेगी, लन्दन, सिंगापूर जैसी जगह पर जाएगी, अधिकतर आतंकियों का ये ही हाल है, चाहे शब्बीर शाह हो, या हिजबुल का सैयद सलाहुद्दीन, इन सभी के बच्चे बढ़िया स्कूलों में ही पढ़ते है, डाक्टर इंजिनियर बनते है, अपने बच्चों को ये आतंकी और पत्थरबाज नहीं बनाते पर दुसरे के ही बच्चों को पत्थरबाज और मदरसाछाप बनाते है