इलाहबाद को प्रयागराज करने के बाद अब अहमदाबाद को कर्णावती करने की बारी : डॉ स्वामी

अहमदाबाद को कर्णावती
अहमदाबाद को कर्णावती

उतर प्रदेश की सरकार अब योगी आदित्यनाथ के पास है और उनका इतिहास रहा है की वो इलाकों के असली और पुराने नाम फिर से रखवाते है, गोरखपुर में जब थे तब भी कई नाम बदलवाए और जब से मुख्यमंत्री बने है, वो शहरों को उनकी असली पहचान दिलवाने का काम जारी रखे हुए है

पहले उन्होंने मुग़ल सराय का नाम मिटवाया और उसे दीनदयाल नगर कर दिया, और अब योगी सरकार ने ऐलान कर दिया है की कुम्भ से पहले वो इलाहबाद का नाम प्रयागराज कर देंगे

इलाहबाद का असली नाम प्रयागराज ही है, अकबर ने 1583 में इसका नाम इलाहबाद कर दिया था, अब प्रयागराज का असली नाम उसे 435 सालों बाद मिलेगा, इस काम के लिए योगी अदित्यानाथ के अलावा डॉ सुब्रमण्यम स्वामी को भी श्रेय जाता है जो इलाहबाद का नाम प्रयागराज किये जाने की मांग लम्बे समय से करते आये है

जब योगी मुख्यमंत्री बने थे तब डॉ स्वामी ने उनसे इस बारे में बात भी की थी और अब इलाहबाद प्रयागराज हो जायेगा, पर मामला यही पर नहीं रुकता

 


आज जब लोगों ने इलाहबाद को प्रयागराज किये जाने की खबर पर डॉ स्वामी और योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद करना शुरू किया तो डॉ स्वामी ने कहा की अब कर्णावती की बारी

यहाँ आपको बता दें की डॉ स्वामी और कई राष्ट्रवादी काफी लम्बे समय से गुजरात के अहमदाबाद को कर्णावती किये जाने की मांग कर रहे है, अहमदाबाद का नाम कर्णावती ही है, अहमद शाह ने कर्णावती का नाम बदलकर अहमदाबाद कर दिया था, और अब डॉ स्वामी ने साफ़ कर दिया है की वो इसकी मांग उठाएंगे और अब अहमदाबाद को कर्णावती करने की बारी है